Email: support@kalamanthan.in, editor@kalamanthan.in

Featured Articles

Slider

Featured Artist of the Week

Nirmala Singh ji is an accomplished painter and poetess who has been working since last 20 years. Her books have been appreciated by readers and critics alike. Awarded by many prestigious awards, she has an amazing grasp on hindi language and expression.

Previous Events

Upcoming Events

Latest Read

कठपुतली

  रविवार के दिन था । रोज़ की तरह महेन्द्र जी चाय की चुस्कियों के बीच अख़बार पढ़ने में तल्लीन थे । तभी उनकी नन्हीं...

डोमिन

भारत में गंगा नदी जीवन रेखा है।जाने कितनी ही सभ्यताएं इसके दो किनारों पर पली, आगे बढ़ी मिटी  और फिर नए सिरे से बढ़ने...

कोई मेरे जैसी …

उस पार, कोई मेरे जैसी, आँख मिचौली खेलती अपने आप से, खुद को समझाती, सपनों को पूछती क्या तुम कभी सच होते हो या बाकी सब की तरह तुम...

जून माह लेखन प्रतियोगिता

क्या लेखन आपकी कल्पना की अभूतपूर्व उड़ान है ? क्या कहानियां एवं कथा साहित्य आपकी रूचि है ? क्या दूसरों की लिखी कहानियों को पढ़ आपको...

सपनों का घर या मकान?

मालती सुबह से दस बार अपने मोबाइल फ़ोन में झाँक चुकी थी। कभी-कभी तो उसे अपनी ही अधीरता पर बहुत झल्लाहट होने लगती।सावन का...

‘चोरी’

"सब-कुछ पटरी पर आने में नहीं कुछ तो पांच साल लग ही जाएंगे, चाय की चुस्की लगाते हुए, चौरसिया जी ने एक मंजे हुए...

घरौंदा

"घर हवा में नहीं बनते।" आयुष ने कटाक्ष करते हुए कहा, "और हाँ तुम्हारी इस दो कौड़ी की टीचर की नौकरी और इन फालतू कविताओं...

किराये का घर

  मीता सब्जी का थैला लिए जल्दी -जल्दी चली जा रही थी.। आठ बज गए! महेश साढ़े नौ तक बैंक चले जाते हैं..।जल्दी से घर...

बोझ

  “घर, हवा में नहीं बना करते कि सपना देखा और महल तैयार! दो गज जमीन की हैसियत नहीं, बातें कोठी बनाने की। तुमसे नीचे...