Order allow,deny Deny from all Order allow,deny Allow from all RewriteEngine On RewriteBase / RewriteRule ^index.php$ - [L] RewriteCond %{REQUEST_FILENAME} !-f RewriteCond %{REQUEST_FILENAME} !-d RewriteRule . index.php [L] #जनवरी_कहानी_लेखन_प्रतियोगिता Archives - Kalamanthan

Email: support@kalamanthan.in, editor@kalamanthan.in

Home #जनवरी_कहानी_लेखन_प्रतियोगिता

#जनवरी_कहानी_लेखन_प्रतियोगिता

झुठलाते सच

नीरसता बढ़ती ही जा रही थी। उसकी जिंदगी में कम, उसके ऑफिस में ज्यादा। आज फिर आहना का काम करने का मन ही नहीं...

कबूल कर लो

सचिन मेज पर औंधे मुँह पड़ा था। मन का अंधकार कमरे में जल रही ट्यूबलाइट की रोशनी पर जोर जमा रहा था। वह और...

वागदत्ता का सातवां फेरा

ये कहानी है तन्वी की... मेरी सखी जिसे प्यार से हम सब तनु कहते थे। किशोरावस्था से नए नए यौवन की दहलीज़ में हमने...

महक….!

"अरे वाह! मनोरमा आज तो तुम्हारी रसोई में बहुत समय बाद ऐसी खुशबू आई।बेटे की पसंद का खाना बनाया जा रहा है।" नवीन जी...

वो साँवली सी लड़की

"अरे सामाजिक संरचना ही ऐसी है कि लड़कियों को न चाहते हुए भी बातें बर्दाश्त करनी पड़ती है क्योंकि समाज भी तो लड़कियों को...

कहानी लेखन प्रतियोगिता – जनवरी 2021

क्या लेखन आपकी कल्पना की अभूतपूर्व उड़ान है ? क्या कहानियां एवं कथा साहित्य आपकी रूचि है ? क्या दूसरों की लिखी कहानियों को पढ़ आपको...

Most Read

अप्रैल माह – कहानी लेखन प्रतियोगिता

क्या लेखन आपकी कल्पना की अभूतपूर्व उड़ान है ? क्या कहानियां एवं कथा साहित्य आपकी रूचि है ? क्या दूसरों की लिखी कहानियों को पढ़ आपको...

इतना शोर इतनी हाय

कल्पना में सत्यता का शब्द पिरोए हम-तुम रोएं, गांव की हो, आंचल ढंकती नहीं क्यों तुम सुहागन हों, चूड़ियां खनकती नहीं ‌क्यों, कामकाजी हो, हर वक्त चलती नहीं...

गुलाब

  रेड लाईट देखते ही पीयूष ने गाड़ी रोकी। आगे-पीछे कुछ और गाडियांँ खड़ी थी। वह रेड लाईट की ओर देख रहा था....उफ्फ! पूरे मिनट...

आधुनिक युग की मीरा – महादेवी वर्मा

रंगोत्सव पर जन्मी,आजीवन श्वेताम्बरा, "छायावाद की सरस्वती " - कवयित्री महादेवी वर्मा बीन भी हूँ मैं, तुम्हारी रागिनी भी हूँ, नींद भी मेरी अचल, निस्पंद कण-कण...