Email: support@kalamanthan.in, editor@kalamanthan.in

Home Blogs

Blogs

हौसला हो यदि बुलंद तो मुश्किल नहीं करेगी तंग

सफलता प्राप्त करने हेतु अनेक मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। राह में अनगिनत बाधाएं आती हैं। मुश्किलें हिम्मत तोड़ना चाहती हैं। मुश्किलों से भयभीत होने की...

बातचीत पर टिकी सम्बन्धों की डोर

बतरस लालच लाल की मुरली धरी लुकाय सौंह करे भौंहन हंसे देते कहें नटि जाय। हिंदी साहित्य जगत में उच्च कोटि के कवि बिहारी जी का...

बचपन को बांटते रंग

  डीयर किंडर जॉय......... सबसे पहले तो तुम्हें बहुत बधाई कि तुम हमारे नन्हे-मुन्ने का दिल जीतने में इतने कामयाब रहे। किसी शॉप में अगर...

हिंदी लेखन प्रतियोगिता

बच्चों में लाएं हिंदी साहित्य का रुझान।पढ़ने व लिखने के लिए प्रोत्साहन का पहला कदम कलामंथन मंच एक ऐसा नाम है जो समाज के समग्र...

August – Story Writing Contest

Are you a writer who loves to dwell into stories? Do you love to see beneath the layers of human emotions? If yes, the Monthly Story...

अगस्त माह – कहानी लेखन प्रतियोगिता

क्या लेखन आपकी कल्पना की अभूतपूर्व उड़ान है ? क्या कहानियां एवं कथा साहित्य आपकी रूचि है ? अगर हाँ तो हम आपके लिए शुरू कर...

वर्किंग मदर्स

जाने क्यों 'माओं ' के बीच भी ये खाई बना दी गयी। क्यों मान लिया जाता हैं की घर में रहने वाली माएँ अपना...

Codes of Feminine Behaviour

Why there are codes of ‘feminine’ behaviour? Why the value of a woman lies in her body and her sexuality rather than her intelligence...

पितृसत्ता में पिसते पुरुष

नारीवाद या फेमिनिज्म से भी लोगों को गुरेज़ शायद इसीलिए भी है की वो प्रत्येक नारी के पुरुष को और प्रत्येक पुरुष के भीतर...

लॉकडाउन में बदलते रिश्ते

आज मै यह लेख अपने अपराध बोध को कुछ कम करने की मंशा से,और अपनी गलत धारणा को स्वीकार करने हेतु कलमबद्ध कर रही...

मल्काइन

आज मौसम बहुत ही सुहावना था । आसमान में छाए कारे बदरा उमड़ घुमड़ कर बरसने का मन बना रहे थे। हम अपनी छत...

Get up! Dress up!! Show up!!! Never give up

The most used word apart from other obvious ones is 'work from home'. We are surviving on this concept and doing pretty good. Few...

Most Read

मेरा अपना खुद का घर

मैं....मैं हूँ, यह मेरा वजूद है!किसने दिया तुमको यह हक, कि तुम खुद को मेरा भगवान समझ बैठे। रिश्ते में बंधी थी जीवनसंगिनी थी, बराबर का...

औरत के सपने

एक औरत के सपने जो औरत ने कभी देखे ही नहीं अपने लिए, विरासत में मिले सपने मुझे मां से मां को अपनी मां से बचपन से बताया...

ममता की आस

  चंदा है तू , मेरा सूरज है तू बंगले के बगल के मोड़पर पान की दुकान पर रेडियों पर गाना बज रहा था।यूँ तो श्यामा...

ये कैसी मानसिकता?

        नारी जीवन का सबसे सुंदर रूप माँ का माना जाता है और वह माँ तभी बनती है जब उसका शारीरिक विकास पूर्ण हो।एक...